Breaking News

ट्रकाें में लगवा रहे अधिक क्षमता के ईंधन टैंक ताकि सस्ता डीजल ला सकें

ट्रक चालकाें एवं मालिकाें ने अब म

))l

lll)))lllllllll



))






))l


























0ⁿ

0
































0

000óP

P


8 po@ll LP l0य) नुस्खा अपना लिया है। वाहनाें में क्षमता से अधिक मात्रा के ईंधन टैंक लगवाए जा रहे हैं 9 पड़ाैसी राज्याें से सस्ता डीजल डलवा सकें। परिवहन ताकि ppविभाग ने दाे साल के भीतर ऐसे तीन हजार वाहनाें का चालान कर डेढ़ कराेड़ रुपए वसूले हैं।

ट्रकाें सामान काे एक से दूसरे स्थान पर पहुंचाने में लगने वाली लागत का 60 से 70 फीसदी हिस्सा डीजल का हाेता है। राजस्थान की अपेक्षा हरियाणा में डीजल-पेट्राेल करीब 10 रुपए तक सस्ता है। इसका लाभ लेने के लिए ट्रांसपाेर्टर गाड़ियाें में बड़े-बड़े डीजल टैंक लगाकर प्रदेश में माल का परिवहन कर रहे हैं।
ऐसे पकड़ी चालकाें की चालाकी

परिवहन निरीक्षक कमल दुबे ने बताया कि काेराेना काल में सरकार की ओर से ट्रांसपाेर्ट सेक्टर काे कई तरह की रियायत दी गई हैं। कई कागजात की अवधि काे लगातार बढ़ाया गया है। लेकिन भार वाहनाें में क्षमता अनुसार ही ईंधन टैंक हाेने चाहिए। जाे कि चेसिस के साथ आते हैं। अगर ईंधन टैंक की क्षमता या अतिरिक्त टैंक लगाया जाता है ताे उसमें पांच हजार रुपए के जुर्माने का प्रावधान है।

परिवहन विभाग के उड़नदस्ताें ने वित्तीय वर्ष 2019-20 में ओवरलाेड के 1494 चालान किए जिससे 1.12 कराेड़ का जुर्माना बसूला और अन्य मदाें में 9077 चालान किए जिससे 5.75 कराेड़ का जुर्माना वसूला। इसी तरह वित्तीय वर्ष 2020-21 में अप्रेल से दिसंबर तक ओवरलाेड में 475 चालान किए जिनसे 1.17 कराेड़ का जुर्माना बसूला और अन्य मदाें में 4378 चालान किए जिनसे 3.17 कराेड़ का जुर्माना बसूला।

विभाग अन्य मदाें में बिना टैक्स अन्य राज्याें के वाहन, नेशनल परमिट की शर्ताें का उल्लंघन करने वाले वाहन, बिना प्रदूषण प्रमाण पत्र के वाहन, विजिवल धुंआ और क्षमता से अधिक डीजल टैंक या अतिरक्त डीजल टैंक हाेने पर चालान करता है। बीते दाे वर्षाें में क्षमता से अधिक डीजल टैंक हाेने पर करीब तीन हजार वाहनाें का चालान कर 1.5 कराेड़ रुपए की राशि प्राप्त की है।

इस तरह पहुंचता है लाभ
माना कि 10 चक्का ट्रक 15 टन माल का लदान करके गुरुग्राम से जैसलमेर भेजा। ट्रक का तीन किमी में एक लीटर डीजल खपत का औसत आता है। गुरुग्राम से जैसलमेर की दूरी एक तरफ से 765 और दाेनाें तरफ से 1530 किमी है। यदि ट्रक चालक बड़े टैंक लगाकर गुरुग्राम से डीजल भरेगा और जैसलमेर से लाैटकर गुरुग्राम पहुंचेगा ताे उसका करीब 510 लीटर डीजल खपेगा।

राजस्थान से हरियाणा में डीजल करीब 10 रुपए महंगा हाेता ताे उसे एक चक्कर में ही करीब पांच हजार रुपए का फायदा हाेगा। ईंधन पर जितनी बचत हाेगी ट्रांसपाेर्टर की लागत भी उतनी कम हाेती जाएगी। आठ जनवरी काे भी प्रदेश के भिवाड़ी स्थित पेट्राेल पंप पर डीजल की दर 84.99 रुपए प्रति लीटर और हरियाणा के पेट्राेल पंप पर डीजल की दर 74.69 रुपए प्रति लीटर थी। दाेनाें राज्याें की डीजल कीमत में 10.30 रुपए का अंतर था।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
एक ट्रक में ड्राइवर साइड लगा अतिरिक्त डीजल टैंक।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3nqwBhi
via < https://i9.dainikbhaskar.com/thumbnails/680x588/web2images/www.bhaskar.com/2021/01/09/5_1610133098.jpg>
;

No comments